February, 2024

सामान्य

मासिक राशिफल 2024 के अनुसार, कुंभ राशि में जन्मे जातकों के लिए फरवरी का यह महीना मिले-जुले परिणाम लेकर आने वाला है। सबसे अच्छी बात यह रहेगी कि आपके राशि स्वामी शनि महाराज आपकी ही राशि में पूरे महीने बने रहेंगे, जिससे आपको कितनी भी चुनौतियों का सामना क्यों ना करना पड़े। आप उनसे बाहर निकल जाएंगे। आप अपने जीवन में अनुशासन का महत्व देंगे और अपनी अच्छी दिनचर्या से अपने सभी कामों को समय रहते पूरा करने की कोशिश में लगे रहेंगे, इससे आपका निजी और पेशेवर जीवन संतुलित रहेगा। इस महीने धार्मिक यात्राओं के योग बनेंगे। मन में धर्म-कर्म के विचार आएंगे। स्वास्थ्य के प्रति थोड़ी सावधानी अवश्य रखनी होगी। परिवार के लोगों का सहयोग प्राप्त होगा। आमदनी में बढ़ोतरी के साथ-साथ खर्चों में भी तेज़ी रहेगी। करियर के लिए समय अच्छा रहने वाला है। अपने स्वभाव को अच्छा बनाने की कोशिश करने से और क्रोध पर नियंत्रण रखने से काम बनेंगे।

कार्यक्षेत्र

करियर के दृष्टिकोण से मासिक राशिफल 2024 भविष्यवाणी करता है कि यह महीना मिश्रित परिणाम लेकर आने वाला है। दशम भाव के स्वामी मंगल महाराज महीने की शुरुआत में तो एकादश भाव में शुक्र के साथ स्थित रहेंगे, जो कि आपके नवम भाव के स्वामी हैं, इस प्रकार राज्यों की स्थिति रहेगी, जिससे आपको अपनी नौकरी में अच्छी पदोन्नति मिलने के योग बनेंगे। आप के वरिष्ठ अधिकारियों से आपके अच्छे संबंध रहेंगे, जिनका आपको अपने करियर में लाभ होगा। आपको तनख्वाह में वृद्धि की सौगात भी मिल सकती है, लेकिन 5 तारीख को मंगल महाराज आपके द्वादश भाव में चले जाएंगे, तो काम के सिलसिले में यात्रा करनी पड़ सकती है। विदेश यात्रा के योग भी बन सकते हैं, इसके अतिरिक्त सूर्य और मंगल का प्रभाव तथा वर्ष के पूर्वार्ध में बुध और शुक्र ग्रहों का प्रभाव भी आप के छठे भाव पर पड़ने लगेगा, जिससे नौकरी में आप के ऊपर काम का दबाव रहेगा। व्यापार करने वाले जातकों की बात करें, तो शनि देव की पूर्ण दृष्टि पूरे महीने आपके सप्तम भाव पर रहेगी, जिससे व्यापार में उन्नति होने के योग तो बनेंगे, लेकिन काफ़ी मेहनत भी करनी पड़ेगी। 13 तारीख को शुक्र आप के प्रथम भाव में शनि के साथ आ जाएंगे, उस दौरान व्यापार में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है और 5 तारीख से मंगल भी द्वादश भाव में आकर सप्तम भाव को देखेंगे, इसलिए व्यावसायिक साझेदार से अच्छे संबंध बनाकर रखें अन्यथा समस्या हो सकती है, वैसे आपके व्यापार से अच्छे धन लाभ के योग बनेंगे।

आर्थिक

यदि आपकी आर्थिक स्थिति को देखा जाए, तो महीने की शुरुआत अनुकूल रहेगी। दूसरे भाव में राहु और एकादश भाव में मंगल और शुक्र की स्थितियों के कारण आपकी आर्थिक स्थिति में वृद्धि होगी। आपकी आमदनी बढ़ेगी। देव गुरु बृहस्पति पूरे महीने तृतीय भाव में बैठकर आपके नवम और एकादश भाव को देखेंगे, जिससे पूरे महीने आपको अच्छी आमदनी प्राप्त होती रहेगी और धन लाभ के योग बनेंगे। सप्तम भाव पर भी देव गुरु बृहस्पति और शनि महाराज की दृष्टि रहेगी तथा महीने के उत्तरार्ध में मंगल की दृष्टि भी सप्तम भाव पर पड़ेगी, जिससे व्यापार धन उगलेगा हालांकि महीने के शुरुआत में सूर्य और बुध के द्वादश भाव में होने राहु, केतु के क्रमशः द्वितीय और अष्टम भाव में होने के कारण खर्चे भी बने रहेंगे। महीने के उत्तरार्ध में मंगल और शुक्र भी आपके द्वादश भाव में आ जाएंगे, जिससे आमदनी में कुछ कमी महसूस होगी लेकिन खर्च तेजी से आगे बढ़ेंगे, इसलिए आपको थोड़ा सा ध्यान देना होगा। शेयर बाजार में निवेश करने के लिए महीने का उत्तरार्ध अधिक अनुकूल रहेगा।

स्वास्थ्य

मासिक राशिफल 2024 भविष्यवाणी करता है कि यह महीना स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से उतार-चढ़ाव से भरा रहने वाला है। शनि महाराज आपकी राशि के स्वामी होकर आपकी ही राशि में स्थित रहेंगे, जिससे आपको अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करेंगे। आप को अनुशासन में रहना सिखाएंगे और आप अच्छी दिनचर्या के कारण अपने स्वास्थ्य को उत्तम बना पाएंगे, लेकिन अष्टम भाव में केतु की उपस्थिति आपको कोई गुना संबंधित समस्या दे सकती हैं, इसके अतिरिक्त महीने की शुरुआत में सूर्य, बुध और उसके बाद में मंगल और शुक्र के आपके द्वादश भाव में जाने से शारीरिक समस्याएं परेशान कर सकती हैं। आंखों में जलन, आंखों से पानी बहना, दर्द, पैरों में जलन जोड़ों में दर्द की समस्या को परेशान कर सकती है, इसलिए थोड़ा सा सावधान रहें और आवश्यक होने पर चिकित्सीय उपचार अवश्य लें।

प्रेम व वैवाहिक

यदि आप किसी प्रेम संबंध में हैं, तो महीने की शुरुआत अच्छी रहेगी। मंगल और शुक्र दोनों का सम्मिलित प्रभाव आपके पंचम भाव पर रहकर आपको खूब रोमांटिक बनाएगा। आप और आपके प्रियतम के मध्य प्रेम बढ़ेगा। आपके रूमानियत चरम पर होगी और आप किसी की भी परवाह नहीं करेंगे। इस दौरान अंतरंग संबंधों में बढ़ोतरी हो सकती है। महीने के उत्तरार्ध कुछ कमज़ोर रहेगा। किसी तरह की कहासुनी से बचें। अविवाहित जातकों को विवाह का अवसर मिल सकता है। पहले से ही विवाहित जातकों की बात करें, तो शनि महाराज सप्तम भाव पर दृष्टि डालकर आपके वैवाहिक जीवन की परीक्षा तो लेंगे, लेकिन महीने का पूर्वार्ध भी अनुकूल रहेगा, क्योंकि तब शनि महाराज की कृपा बनी रहेगी, लेकिन महीने के उत्तरार्ध में सूर्य महाराज भी शनि के साथ प्रथम भाव में बैठकर सप्तम भाव को देखेंगे और मंगल महाराज द्वादश भाव में बैठकर संभव को देखेंगे, जैसे गुणों के प्रभाव के कारण आपसी कहासुनी और तनाव बढ़ सकता है। आपको धैर्य के साथ अपने रिश्ते को संभालना होगा।

पारिवारिक

यह महीना पारिवारिक तौर पर ठीक-ठाक रहने वाला है। तीसरे भाव में देव गुरु बृहस्पति पूरे महीने बने रहेंगे, जिससे भाई व बहनों से आपके संबंध अनुकूल रहेंगे, उनसे प्रेम मिलेगा व धर्म-कर्म के कामों में आपकी सहायता करेंगे। आपको उनसे प्यार मिलेगा। महीने की शुरुआत में उनके माध्यम से आपको धन लाभ भी हो सकता है। माता-पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। आपसी समस्याएं दूर होंगी। हालांकि दूसरे भाव में राहु महाराज की उपस्थिति यह बताती है कि कुटुंब में किसी बात को लेकर खींचातानी हो सकती हैं, उसके प्रति थोड़ी सावधानी रखेंगे, तो सब कुछ ठीक से हो जाएगा और आपका पारिवारिक जीवन अच्छे से व्यतीत होगा। परिवार के लोगों के साथ तीर्थ यात्रा पर जा सकते हैं।

उपाय

आपको शनिवार के दिन दशरथकृत शनि स्तोत्र का पाठ करना चाहिए।
इसके अतिरिक्त मंगलवार और शनिवार को सात बार हनुमान चालीसा का पाठ चमेली का तेल का दीपक जलाकर करना चाहिए।
आपको एक उत्तम गुणवत्ता वाला नीलम रत्न या जमुनिया रत्न शनिवार के दिन अष्टधातु की मुद्रिका में डलवा कर अपनी मध्यमा अंगुली में धारण करना चाहिए।
मंगलवार के दिन रक्तदान करना आपके लिए हितकारी रहेगा।