January, 2020

सामान्य

कुंभ राशि के अंतर्गत जन्म लेने के कारण आपके अंदर शनिदेव की कुछ विशिष्ट ख़ूबियाँ पाई जाती हैं जिनमें धैर्य और संयम सबसे अधिक महत्वपूर्ण है। आप अपने विचारों के प्रति दृढ़ होते हैं और आसानी से जब तक बिना कोई पुख्ता बुनियाद हो, आप अपना विचार बदलना पसंद नहीं करते। आप जीवन में तरक्की करते हैं लेकिन धीरे-धीरे इसलिए आपकी तरक्की और उसके बाद होती है लेकिन जब एक बार आपने तरक्की करनी शुरू कर दी तो फिर आप पीछे पलट कर नहीं देखते। आप अक्सर लंबे कद के और गहरी सोच रखने वाले होते हैं। आपके व्यवहार में और आपके जीवन में दृढ़ता और ठहराव पाया जाता है और यही आपकी सबसे बड़ी खूबी है जो आपको भीड़ में सबसे अलग रखती है। इस महीने शनि देव का गोचर आपकी राशि से 12 वे भाव में 24 जनवरी को होने के बाद आपके जीवन में अनेक बदलाव आएँगे और संभव है आपका स्थान परिवर्तन भी हो। विदेश यात्रा पर जाने की पूरी संभावना 24 जनवरी के बाद बन जाएगी और यदि आप प्रयासरत हैं तो सफलता अवश्य मिलेगी। यदि अपना घर खरीदने का विचार किया हुआ है तो इस महीने आपको उत्तरार्ध में सफलता मिल सकती है हालांकि आप को उसके लिए मेहनत अधिक करनी होगी और काफी हाथ पैर मारने पड़ेंगे। लेकिन सफलता मिलने के बाद आपके चेहरे की चमक देखते ही बनेगी। इस महीने आपको अपने धन का निवेश कब और कहां करना है तथा किस तरीके से करना है इस बारे में विचार करना चाहिए क्योंकि ऐसे अनेक आप शराब के सामने आएँगे, जब आप धन्यवाद के मामले में खुद को असमंजस की स्थिति में पाएंगे।सूर्य देव 15 जनवरी को आपके एकादश भाव से निकलकर द्वादश भाव में प्रवेश करेंगे और बुध देव उससे पहले 13 जनवरी को ही मकर राशि यानि कि आपके बारहवें में भाव में आ जाएंगे। महीने की शुरुआत में शुक्र देव का गोचर आपकी राशि से 12 वें भाव में होगा और 9 जनवरी को वह आपकी राशि में प्रवेश कर जाएंगे। इस प्रकार आप का बारहवाँ भाव मुख्य रूप से एक्टिव रहेगा और यह भाव हमारा व्यय भाव कहलाता है। इस भाव से विशेष रूप से विदेश, विदेशी संबंध, हानि, खर्चे, अस्पताल, जेल, आदि के बारे में पता चलता है। इसके अलावा यह हमारे बाँया नेत्र और अनिद्रा तथा शयन सुख के बारे में भी जानकारी देता है। इसलिए आपको इस महीने बारहवें भाव के फल भी अधिक मात्रा में प्राप्त होंगे।

कार्यक्षेत्र

करियर के बारे में जानकारी के लिए आप का दशम भाव बहुत कुछ बताता है और इस कार्य में दशमेश का रोल काफी महत्वपूर्ण होता है। आपकी कुंडली में दशम भाव का स्वामी मंगल है, जो अपनी ही राशि वृश्चिक में उपस्थित है और पूरे महीने भर इसी राशि में उपस्थित रहेंगे। इसके परिणाम स्वरूप कार्यक्षेत्र में आपको अच्छे परिणामों की प्राप्ति होगी। ऐसा भी मुमकिन है कि आपकी पदोन्नति और अधिकार वृद्धि हो जाये, जिससे आपके पास शक्ति भी रहेगी और कर्तव्य भी। इस दौरान आपको सरकारी क्षेत्र से लाभ मिल सकता है और यदि आप पहले से ही सरकारी क्षेत्र में है, तो आप को पदोन्नति मिलने की अच्छी संभावना रहेगी, लेकिन साथ ही साथ गवर्नमेंट द्वारा आपको किसी अन्य स्थान पर ट्रांसफर भी किया जा सकता है। यदि आप निजी क्षेत्र में जॉब करते हैं, तो आपको अपने वरिष्ठ अधिकारियों से अच्छा व्यवहार बना कर रखना होगा, क्योंकि आप के भले के लिए उनकी नजर-ए-इनायत बहुत जरूरी है। सहकर्मियों की मदद से आपको आपके काम में सुविधा होगी इसलिए आपको उनका शुक्रगुज़ार होना चाहिए और उनसे भी अच्छा व्यवहार बना कर रखना चाहिए क्योंकि जब भी आपको उनकी मदद की आवश्यकता होगी, वे आपकी मदद को आगे आएँगे।व्यवसाय के क्षेत्र में इस महीने एक से अधिक स्त्रोत्र जुड़ सकते हैं, जो भविष्य में आपके करियर को ऊपर उठाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। आपको अपने सामने आने वाले सभी नए आइडिया पर कम से कम एक बार ज़रूर ध्यान देना चाहिए, ताकि कोई भी मिस न हो जाए, क्योंकि आप के सामने अपॉर्चुनिटी केवल एक बार दरवाज़ा खटखटाती है, बार-बार नहीं। इसलिए अपने सामने आने वाले हर मौके को समय रहते भुना लें। अपने काम में विदेशी कंपनियों अथवा संपर्कों का पूरा प्रयोग करें, क्योंकि यह आपके लाभ को बढ़ाएंगे। इस महीने के दौरान आपको किसी बुजुर्ग या फिर समाज के सम्मानित व्यक्ति का आशीर्वाद प्राप्त होगा, जिसकी कृपा दृष्टि तथा मार्गदर्शन से आप जीवन में आगे बढ़ेंगे। आपके बड़े भाई बहन भी आपके काम में आप पूरी तरह मददगार साबित होंगे।

आर्थिक

आर्थिक मोर्चे पर यह महीना हर तरह से बेहतरीन रहेगा और आपकी आमदनी में उत्तरोत्तर वृद्धि होती जाएगी। साल 2020 का यह पहला महीना आपकी आमदनी को कई मोर्चों पर आगे बढ़ाएगा और आप एक से अधिक माध्यमों के द्वारा धन अर्जित करेंगे। हालांकि महीने के मध्य में जब सूर्य और बुध का गोचर 12 वे भाव में हो जाएगा तब आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि अचानक से आपके खर्चों में वृद्धि होगी और कुछ ऐसी यात्राएं भी होंगी जो आपके खर्चे को बढ़ाने वाली सिद्ध होंगी। लेकिन इन सब से आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि सबके बावजूद भी आपकी आमदनी बढ़िया रहेगी और वह आपके खर्चे और आपके बकाया बिलों का भुगतान करने के लिए पर्याप्त होगी। लेकिन 24 जनवरी के बाद जब शनि देव 12 वे स्थान में आएँगे तब से आपके खर्चों की वृद्धि होगी इसलिए आपको धन का नियंत्रण करना पड़ेगा। अन्यथा आने वाले समय में आपको आर्थिक चुनौतियों के लिए तैयार रहना पड़ेगा। जीवनसाथी और परिवार के अन्य लोगों के स्वास्थ्य पर आप खर्च कर सकते हैं तथा घरेलू जीवन के उपयोग की वस्तुओं की ख़रीददारी में भी आपका धन व्यय होगा। लेकिन जब के बावजूद भी कुछ खर्चे ऐसे होंगे जिन्हें आप को पूरा करना ही पड़ेगा और वही आपकी चिंता का कारण बनेंगे। प्रॉपर्टी खरीदने के लिए सब अच्छा चल रहा है। इसलिए यदि आप इस दिशा में सोच रहे हैं तो देर ना करें। यदि आप स्वयं विद्यार्थी हैं तो आपका अपनी शिक्षा पर खर्च हो सकता है। जैसे ही धन आपके पास आता है उसको इन्वेस्ट करने का कोई तरीका ढूंढिए ताकि एकमुश्त रकम के साथ साथ नियमित आमदनी बन सके और आपके पास पैसे का प्रवाह निरंतर होता रहे। इससे आपकी भविष्य की समस्याएं भी दूर हो जाएंगी।

स्वास्थ्य

स्वास्थ्य के मोर्चे पर आपका जनवरी का महीना मिश्रित परिणाम देने वाला सिद्ध होगा। जहां महीने के आखिरी सप्ताह तक आप काफी हद तक चुस्त-दुरुस्त और तंदुरुस्त रहेंगे वही अंतिम सप्ताह में शनि देव का गोचर द्वादश भाव में होने के बाद आपके स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है। आपके पैरों में दर्द, आंखों में कष्ट, नींद की कमी, शयन सुख में कमी, हो सकती है और अनियमित भोजन करने का भोजन छोड़ने की आदत के कारण भी आपको शारीरिक रूप से परेशानी हो सकती हैं।आपको अपने आलस्य का त्याग करना होगा और खुद को फिट रखने के लिए नियमित रूप से योगाभ्यास तथा शारीरिक एक्सरसाइज करने पर जोर देना होगा। क्योंकि आपको मोटापे की समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। किसी भी बीमारी के चंगुल में ना फंसे और समय रहते अपने शारीरिक लक्षणों को ध्यान में रखते हुए उपयोगी चिकित्सा लें, ताकि किसी बड़ी और गंभीर बीमारी से समय रहते बचा जा सके। खुद को अकेले में ना रखें और अपने मित्रों तथा प्रिय जनों के साथ समय बिताएं क्योंकि अकेले रहने पर आप बेवजह की बातों में ध्यान लगाएंगे और आप मानसिक अवसाद को अपनी और आमंत्रित करेंगे।

प्रेम व वैवाहिक

इस महीने के दौरान आपके प्रेम जीवन की गाड़ी थोड़े हिचकोले लेती रहेगी, लेकिन चलती रहेगी। यानि कि आपके प्रेम जीवन में उतार चढ़ाव की स्थिति बनी रहेगी क्योंकि एक से अधिक ग्रहों की स्थिति आप और आपके प्रियतम के बीच बात बात पर तनातनी का कारण बन सकती है। लेकिन इस सबके बीच में आपके प्रेम की कोपलें फूटती रहेंगी। इस दौरान आप अपने प्रियतम को लेकर किसी पार्टी आदि में जा सकते हैं या उन्हें अपने मित्रों से मिलवा सकते हैं। इससे आपके मित्र भी प्रसन्न रहेंगे और आपका प्रियतम भी पूरी तरह खुश दिखेगा। बस किसी भी बात को लेकर व्यर्थ की बहस में ना पड़ें और यदि वह किसी बात से नाराज़ हो जाएं, तो एक अच्छे प्रियतम बने और उनको मना लें, चाहे आपको उन्हें कहीं घुमाने ले जाना पड़े या कोई अच्छा सा गिफ्ट देना पड़े। क्योंकि प्यार में सब कुछ जायज़ है और आपका प्रियतम ही आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण होना चाहिए। 13 जनवरी के बाद जब बुध देव का गोचर मकर राशि में होगा, उस समय आपका प्रियतम कुछ समय के लिए आपसे दूर जा सकता है, चाहे इसकी वजह उनका प्रोफेशन हो या कहीं दूर घूमने जाना। ऐसी स्थिति में भी हमसे संपर्क बनाए रखें और अपने प्यार में गर्माहट बनाए रखें।

अगर आपके वैवाहिक जीवन की बात करें तो इस महीने आपका वैवाहिक जीवन भी उतार-चढ़ाव से भरा रहेगा हालांकि आप को अपने जीवन साथी के माध्यम से अनेक प्रकार के लाभ हो सकते हैं। यदि अपने जीवन साथी के साथ आप कार्य क्षेत्र से जुड़े हैं, तो उनकी मदद से आप कोई डील फाइनल कर सकते हैं अथवा उन की सहायता पाकर आपको कोई विशेष आर्थिक लाभ हो सकता है। इसके अलावा उनके साथ आप किसी शादी, पार्टी, समारोह आदि में शिरकत कर सकते हैं जहां उनकी मित्र मंडली से आपको मिलने का मौका मिलेगा और आपके मित्र मिल पाएंगे इससे सामाजिक रुप से भी आप काफी उन्नति करेंगे और आपका सोशल सर्किल बढ़ेगा। इस दौरान आपको अपने जीवन साथी के अलावा किसी अन्य से भी लगाव हो सकता है, लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि किसी भी रिश्ते में ईमानदारी सबसे ज्यादा जरूरी होती है। इसलिए अपने व्यवहार पर नियंत्रण रखें और अपने जीवनसाथी को नाराज़ ना करें। क्योंकि उनकी नाराज़गी आपके लिए घाटा ही लेकर आएगी। आप अपने जीवन साथी के साथ कहीं घूमने फिरने भी जा सकते हैं और किसी सुदूर यात्रा की प्लानिंग भी अभी से कर सकते हैं। उन्हें खुश रखने का प्रयास करें इसी में आपको ही सच्ची खुशी मिलेगी और जीवन में तरक्की भी आएगी। इस दौरान आपको अपने ससुराल पक्ष से कोई अच्छी खबर मिल सकती है, जिसको जानकर आप की खुशी का ठिकाना नहीं रहेगा।

पारिवारिक

पारिवारिक जीवन के दृष्टिकोण से देखने पर जनवरी 2020 आपके लिए अच्छा ही रहेगा और एहसान आपको अनेक खट्टे मीठे अनुभवों का सामना करना पड़ेगा। यदि आप अपना मकान लेना चाहते हैं, तो इस महीने आपकी मुराद पूरी हो सकती है, लेकिन इस महीने के उत्तरार्ध में। लेकिन उसके लिए आपको एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ेगा और अपनों से पूरी कोशिश करनी होगी कि आप की डील से जल्द से जल्द फाइनल हो जाए। हालांकि जब आपका घर मिल जाएगा तो आपको जो सुकून मिलेगा उसकी कल्पना किसी से नहीं की जा सकती। जो लोग विदेश में रहते हैं, उनकी आँखें अपने परिजनों को याद कर थोड़ी नम हो सकती हैं। आपके बड़े भाई बहनों को कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। दूसरी और आपके छोटे भाई बहन आपके काम में आपकी मदद करेंगे। आपके परिवार वाले आवश्यकता होने पर आपको आर्थिक मदद भी देंगे जैसे आपको धन के मामले में परेशान होने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। माताजी का स्वास्थ्य 9 जनवरी के बाद अच्छा हो जाएगा और वह स्वास्थ्य लाभ का आनंद लेंगी। हल्की-फुल्की नोक झोंक तो परिवार में हो सकती है लेकिन किसी बड़े झगड़े अथवा समस्या की संभावना दिखाई नहीं देती। इसलिए यह महीना आपके लिए सुकून भरा महीना रह सकता है।परिवार से संबंधित घरेलू उपाय आपका ध्यान अपनी ओर आकर्षित करेंगे लेकिन जब आप अपनी जिम्मेदारियों को समझते हुए सभी कर्तव्य पूरे करेंगे तो परिवार वालों की नजर में आप का सम्मान बढ़ेगा और आपके परिवार में महत्ता भी बढ़ेगी। आवश्यकता होने पर आप अपने छोटे भाई बहनों की आर्थिक तौर पर सहायता करेंगे जिससे उनके और आपके रिश्ते में गहराई आएगी। इस महीने आपके माता-पिता किसी सुदूर यात्रा पर जा सकते हैं और आप भी अपने साथ अपने माता पिता को किसी अच्छी जगह पर घुमाने लेकर जा सकते हैं।

उपाय

आपको माता दुर्गा की मूर्ति या चित्र के सामने देसी घी का दीपक जलाकर उनकी पूरे मन से पूजा करनी चाहिए और दुर्गा चालीसा का नियमित पाठ करना चाहिए। शिक्षा में अच्छे परिणामों की प्राप्ति के लिए माता सरस्वती की पूजा भी कर सकते हैं और उन्हें पीले रंग के चावलों का भोग लगाएँ। इसके अलावा आप उत्तम गुणवत्ता का हीरा अथवा ओपल रत्न शुक्रवार के दिन अपनी अनामिका अंगुली अर्थात रिंग फिंगर में पहन सकते हैं। महिलाओं तथा अपने अधीन काम करने वाले लोगों को सम्मान दें और आपकी वजह से उन्हें किसी प्रकार का कष्ट ना हो। घोड़े को चने की दाल खिलाएं तथा चींटियों को आटा डालें।