February, 2024

सामान्य

मासिक राशिफल 2024 के अनुसार, यह महीना कर्क राशि के जातकों के लिए करियर के मामले में अनुकूल और आर्थिक मामलों में उतार-चढ़ाव से भरा रहने की संभावना दिखाई देती है। महीने की शुरुआत में सूर्य और बुध सप्तम भाव में बुध आदित्य योग बनाएंगे, जो आपके व्यापार के लिए अनुकूल रहेगा, तो देव गुरु बृहस्पति पूरे महीने आपके दशम भाव में रहकर आपके पारिवारिक जीवन में अनुकूलता देंगे और नौकरी में आपको अहंकार से बचने की सलाह देते हैं। अष्टम भाव के स्वामी शनि महाराज पूरे महीने अष्टम भाव में रहेंगे, क्योंकि आपकी राशि के लिए कंटक शनि का समय है। मानसिक तनाव बढ़ेगा। यात्राओं की स्थिति बन सकती है। पूरे महीने के तीसरे भाव में राहु नवम भाव में रहकर आपको धर्म-कर्म के मामलों में आगे बढ़ाएंगे और यात्रा करने का अवसर प्रदान करेंगे।

कार्यक्षेत्र

करियर के दृष्टिकोण से यह महीना अनुकूल रहने की संभावना दिखाई देती है, क्योंकि सर्वप्रथम आप के छठे भाव के स्वामी देव गुरु बृहस्पति जो कि आपके भाग्य साल के स्वामी भी हैं। आपके दशम भाव में पूरे महीने विराजमान रहेंगे और वहां से उनकी दृष्टि आप के छठे भाव पर भी होगी, इसके अतिरिक्त मंगल और शुक्र दोनों ही छठे भाव में उपस्थित रहेंगे। महीने की शुरुआत में इनका इन भावों में हो ना आपको आपकी नौकरी में अनुकूल परिणाम प्रदान करेगा। कुछ विरोधी सिर उठाने की कोशिश करेंगे, लेकिन ग्रहों का प्रभाव आपकी चुनौतियों को स्वता ही समाप्त कर देगा और आप सभी चुनौतियों से बाहर निकल कर आएँगे। मासिक राशिफल 2024 संकेत दे रहा है कि दशम अर्थात सप्तम भाव में सूर्य महाराज वर्ष की शुरुआत में स्थित होंगे, जिससे अब अपनी नौकरी में अच्छा पद प्राप्त करने के लिए प्रयास करेंगे, उसमें सफल भी हो सकते हैं। हालांकि अष्टम भाव में बैठे शनि महाराज की दृष्टि दशम भाव पर होने से कुछ अड़चनें भी आएंगी और हो सकता है, आपको मनचाहा काम ना मिले, लेकिन थोड़ा सा धैर्य रखने से आपको लाभ होगा। नौकरी में परिवर्तन करने में सफलता मिल सकती है और नौकरी में स्थानांतरण हो सकता है। सरकारी क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को विशेष लाभ होगा। यदि आप कोई व्यापार करते हैं, तो महीने की शुरुआत में सूर्य और बुध सप्तम भाव में विराजमान रहकर आपके व्यापार को उन्नत बनाएंगे। आप लोगों से व्यापार में आगे बढ़ेंगे। मंगल और शुक्र भी आपके सप्तम भाव में महीने के उत्तरार्ध में रहेंगे, जो आपके व्यापार में अच्छी उन्नति दिखा रहे हैं।

आर्थिक

यदि आपकी आर्थिक स्थिति को देखा जाए, तो आर्थिक चुनौतियां आपके सामने आने वाली हैं, इसलिए पहले से ही तैयारी करके रखें। हालांकि यह अल्प समय के लिए ही होगा, लेकिन आपको थोड़ा ध्यान देना होगा। मंगल और शुक्र की दृष्टि महीने की शुरुआत में आपके द्वादश भाव पर होगी, जिससे खर्च में अधिकता हो सकती है। आप अपनी सुख-सुविधाओं पर जीवन का खर्च करेंगे, इससे जितने भी आमदनी आएगी, उसका अधिकांश भाग आप खर्च कर डालेंगे, इसलिए आपको बचत करने की आदत डालनी चाहिए। अष्टम भाव में बैठे अपनी ही राशि के शनि महाराज आपके दर्शन द्वितीय और पंचम भाव को पूर्ण दृष्टि से देखेंगे, जिससे आप सरकारी बचत योजनाओं का लाभ उठाकर, उन्हें कुछ धन का निवेश करके लाभ प्राप्त कर सकते हैं। देव गुरु बृहस्पति दशम भाव में रहेंगे, जिससे नौकरी में अच्छी कमाई होने की संभावना रहेगी और उसी से आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

स्वास्थ्य

यह महीना स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से मध्यम रहने की संभावना है। शनि महाराज पूरे महीने अष्टम भाव में बने रहेंगे, यहां उपस्थित होकर शनिदेव किसी लंबी चलने वाली बीमारी का उदय करा सकते हैं, इसलिए आपको अपनी स्वास्थ्य समस्याओं के प्रति सतर्क रहना होगा और कोई भी समस्या होने पर तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना होगा ताकि भविष्य में किसी बड़ी समस्या का सामना करने से बच जाएं। मासिक राशिफल 2024 भविष्यवाणी करता है कि शुरुआत में मंगल शुक्र भी छठे भाव में होंगे, जो असंतुलित भोजन से और ज्यादा ऐशो आराम का जीवन व्यतीत करने से शारीरिक समस्याओं को दिखाते हैं, जिससे मूत्र जनन नलिका से संबंधित कोई समस्या का सामना आपको करना पड़ सकता है। इन समस्याओं से बचकर रहने के लिए कोशिश करेंगे, तो सफल रहेंगे और अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त कर पाएंगे।

प्रेम व वैवाहिक

यदि आप किसी प्रेम संबंध में हैं, तो महीने की शुरुआत आपके लिए अनुकूल रहेगी। पंचम भाव के स्वामी मंगल अष्ट छठे भाव में शुक्र के साथ विराजमान हैं, जिससे पता चलता है कि आप और आपके प्रियतम के बीच भरपुर रोमांस होगा। आप एक दूसरे से एक पल के लिए भी दूर जाना पसंद नहीं करेंगे और एक दूसरे के ख्वाबों में डूबे रहेंगे। एक दूसरे के साथ फिल्म देखने जाना, घूमना फिरना खाना, सभी ऐसे काम, जो प्रेमी-प्रेमिका करते हैं। आप और अपने प्रेम जीवन को जी भर कर जिएंगे। 5 तारीख को मंगल आपके सप्तम भाव में जाएंगे, तो वही शुक्र भी 12 तारीख को सप्तम भाव में पहुंच जाएंगे। इस दौरान अपने प्रियतम को विवाह के लिए प्रस्ताव देने में सफलता मिल सकती हैं। यदि आप एक विवाहित जातक हैं, तो वैवाहिक जीवन के दृष्टिकोण से महीने की शुरुआत कुछ कमज़ोर है। सूर्य और बुध का बुधादित्य योग वैसे, तो आपके जीवन साथी को अच्छे निर्णय लेने वाला बनाएगा, लेकिन सूर्य शनि के साथ जाकर 13 तारीख को अष्टम भाव में विराजमान हो जाएंगे और मंगल तथा शुक्र आपके सप्तम भाव में आ जाएंगे। स्थितियों में आपका अपने ससुराल पक्ष के लोगों से झगड़ा और कहासुनी होने की नौबत आ सकती है, जिसका असर आपके वैवाहिक जीवन पर भी पड़ेगा। जीवन साथी से नजदीकियां व प्रेम बढ़ेगा। एक दूसरे के प्रति निकटता का भाव रहेगा। फिर भी ससुराल पक्ष से संबंधों को सुधारने पर ध्यान देने से आप अपने वैवाहिक जीवन को खुलकर जी पाएंगे।

पारिवारिक

यह महीना पारिवारिक तौर पर अनुकूल रहने की संभावना है। दशम भाव में बैठे देव गुरु बृहस्पति पूरे महीने आपके चतुर्थ भाग्य पर दृश्य डालकर रखेंगे, जिससे पारिवारिक जीवन में सुख और शांति रहेगी। माताजी और पिताजी के स्वास्थ्य में यदि कोई समस्या चल रही थी, तो वह धीरे-धीरे दूर होने लगेगी और उनका प्यार आपको प्राप्त होगा। तीसरे भाव में केतु महाराज की उपस्थिति होने के कारण भाई व बहनों को समझ पाना थोड़ा सा मुश्किल होगा। हालांकि वे आपके लिए लाभदायक ही साबित होंगे। मंगल महाराज 5 तारीख को आपके सप्तम भाव में आकर वहां से दशम भाव को देखेंगे। शनि का गोचर नवम से द्वादश अर्थात अष्टम भाव में होगा और वहां से वह आपके दशम भाव को भी देखेंगे, जिससे पिताजी को स्वास्थ्य संबंधित चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है और आपको उनसे सावधानी से बातचीत करते हुए उनकी इज्जत करनी चाहिए ताकि आपके संबंधों पर इसका विपरीत प्रभाव न पड़ सके।

उपाय

आपको प्रतिदिन श्री हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।
एक अच्छी गुणवत्ता वाला सच्चा मोती रत्न चांदी की मुद्रा में सोमवार के दिन अपनी कनिष्ठिका अंगुली में धारण करें।
आपको शनिवार के दिन छाया दान अवश्य करना चाहिए।
एकादशी, पूर्णमासी अथवा शुभ अवसरों पर गंगा स्नान अवश्य करें।