February, 2024

सामान्य

मासिक राशिफल 2024 के अनुसार कन्या राशि में जन्मे जातकों के लिए यह महीना बहुत हद तक अनुकूल परिणाम देने वाला महीना साबित हो सकता है। हालांकि आपको अपने व्यवहार में बदलाव लाना होगा। इस पूरे महीने तो आपकी ही राशि में स्थित रहेंगे, जो आपको लोगों से अलग-थलग बनाएंगे। आपके अंदर एकांकी रहने या अलग रहने की भावना जन्म ले सकती है, जो आपके लिए अच्छी नहीं होगी क्योंकि इससे आपके अपने लोग ही आपसे दूर हो सकते हैं। अपने आपको को लोगों के सामने प्रकट करें, इससे आपका रिश्ता प्रबल होगा। जमीन खरीदने की स्थिति बन सकती है। गाड़ी भी खरीद सकते हैं, इस महीने शारीरिक तौर पर थोड़ा सा ध्यान देना होगा, क्योंकि स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं। आपका विदेश जाने का सपना भी इस महीने पूरा हो सकता है।

कार्यक्षेत्र

करियर के दृष्टिकोण से यह महीना अनुकूल रहने की प्रबल संभावना है। महीने की शुरुआत में शनि देव महाराज छठे भाव में अपनी ही राशि में प्रबल रूप से विराजमान रहेंगे, जो आपसे मेहनत करने को कहते रहेंगे, उनकी मेहनत करने की प्रेरणा आपको आपके कार्य क्षेत्र में सफलता दिलाएगी और नौकरी में आपकी स्थिति मजबूत हो जाएगी। आप अपने विरोधियों से भी नहीं घबराएंगे। महीने की शुरुआत में दशम भाव के स्वामी बुध महाराज पंचम भाव में रहेंगे, जो नौकरी में बदलाव का संकेत देते हैं, लेकिन 20 तारीख को बुद्धदेव के छठे भाव में जाने से किन स्थितियों पर विराम लगेगा और आप अपनी नौकरी में जमे रहेंगे। व्यापार करने वाले जातकों को थोड़ी सावधानी के साथ आगे बढ़ना होगा क्योंकि सप्तम भाव के स्वामी बृहस्पति महाराज अष्टम भाव में रहेंगे, जो अचानक से कुछ घटनाओं को जन्म दे सकते हैं, जो आपके व्यापार के लिए अनुकूल साबित नहीं होगी लेकिन सप्तम भाव में राहु महाराज के विराजमान होने से आप लोगों को चकित कर देने वाले निर्णय लेंगे, जो आपके व्यापार को आगे लेकर जाएंगे और आपके व्यापार में अच्छी उन्नति के योग बन सकते हैं।

आर्थिक

यदि आपकी आर्थिक स्थिति को देखा जाए, तो यह महीना आर्थिक रूप से उतार-चढ़ाव से भरा रहने वाला है। महीने की शुरुआत में मंगल और शुक्र चतुर्थ भाव में बैठकर कोई चल अथवा अचल संपत्ति प्रदान कर सकते हैं। मंगल वहीं बैठ कर आपके एकादश भाव को भी देखेंगे, जिससे आपकी आमदनी में बढ़ोतरी करेंगे। सूर्य और बुध पंचम भाव से एकादश भाव पर दृष्टिपात करेंगे, इससे भी आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होगी, लेकिन देव गुरु बृहस्पति के अष्टम भाव में होने से धन हानि होने के योग भी बन सकते हैं और घर की जरूरतों का बहुत सारा धन खर्च हो सकता है। 13 तारीख को सूर्य के छठे भाव में जाने से खर्चों में कुछ तेजी आएगी। शनि के द्वादश भाव पर दृष्टि डालने से भी खर्चों में तेजी भी बनी रहेगी। हालांकि मंगल और शुक्र के पंचम भाव में आ जाने से आमदनी भी बढ़ेगी, लेकिन बुध के 20 तारीख को छठे भाव में आ जाने से आपके खर्चों में बेतहाशा बढ़ोतरी होगी, इसलिए इस महीने यह आवश्यक होगा कि आप अपने खर्चों पर नियंत्रण पाने की कोशिश करें, उसी से आप आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ बना पाएंगे। धन का निवेश करने के लिए समय ज्यादा अनुकूल नहीं है, इसलिए सावधानी रखें।

स्वास्थ्य

मासिक राशिफल 2024 भविष्यवाणी करता है कि यह महीना स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से मध्यम रहने की संभावना है। शनि महाराज छठे भाव में रहकर पुरानी बीमारियों में आराम पहुंचाएंगे और आपको आपकी बीमारियों से लड़ने का साहस प्रदान करेंगे। यही शनि महाराज आपको यह चेतावनी भी देते हैं कि यदि आपने अपने प्रति लापरवाही भरा रवैया अपनाया, तो कोई गंभीर बीमारी का शिकार भी हो सकते हैं। देव गुरु बृहस्पति जो कि चौथे और सातवें भाव के स्वामी हैं, जो अष्टम भाव में विराजमान रहेंगे और उधर शनिदेव की दृष्टि भी होगी तथा 5 तारीख के बाद से पंचम भाव में बैठे मंगल की दृष्टि भी बृहस्पति तथा अष्टम भाव पर होने से तीन ग्रहों का प्रभाव अष्टम भाव को प्रभावित करेगा, इसलिए आपके जीवन में कुछ बड़े बदलाव आ सकते हैं। स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होगी।

प्रेम व वैवाहिक

यदि आप किसी प्रेम संबंध में हैं, तो महीने की शुरुआत बेहद अनुकूल रहेगी। सूर्य और बुध पंचम भाव में रहकर आपके प्रियतम को बहुत अच्छे दिमाग वाला और शुभ विचारों से युक्त बनाएंगे। आप अपने प्रेम को सही अर्थ में परिभाषित कर पाएंगे। 5 तारीख को मंगल और 12 तारीख को शुक्र के पंचम भाव में आ जाने से आपका रिश्ते सामान्य से आगे बढ़ेगा। एक दूसरे के और निकट आएंगे। अंतरंग संबंधों में बढ़ोतरी होगी। रूमानियत से भरा समय रहेगा। आप अपने प्रियतम को दिल की गहराइयों से प्यार करेंगे। अगर विवाहित जातकों की बात करें, तो इस महीने उतार-चढ़ाव की स्थिति दिखाई देती हैं। आपकी राशि में केतु और सप्तम भाव में राहु पूरे महीने विराजमान रहेंगे तथा महीने की शुरुआत में मंगल की दृष्टि चतुर्थ भाव से सप्तम भाव पर होगी, जिससे जीवनसाथी से तनाव बढ़ सकता है। कहासुनी होने के योग बनेंगे, उनका स्वास्थ्य भी पीड़ित हो सकता है। हालांकि महीने के उत्तरार्ध में आपके रिश्ते में समस्याओं में कमी आएगी और एक दूसरे को समझ पाने का प्रयास करते रहेंगे, इससे एक दूसरे को धीरे-धीरे समय भी देंगे और उससे आपके रिश्ते पर पड़ी धूल साफ हो जाएगी, लेकिन इसमें समय लगेगा, इसलिए धैर्य रखें।

पारिवारिक

यह महीना पारिवारिक तौर पर मध्यम रहने की संभावना है। महीने की शुरुआत में मंगल और शुक्र आप के चतुर्थ भाव में विराजमान रहेंगे और चतुर्थ भाव के स्वामी बृहस्पति महाराज अष्टम भाव में बैठकर चतुर्थ भाव और द्वितीय भाव तथा द्वादश भाव को पूर्ण दृष्टि से देखेंगे, इसके परिणामस्वरूप आपकी लंबी यात्राओं का योग बन सकते हैं। परिवार में धार्मिक और शुभ कार्य हो सकते हैं। किसी के विवाह या किसी फंक्शन का आयोजन हो सकता है। यदि आप चाहे तो आप कोई नया वाहन या नयी संपत्ति भी इस महीने खरीदने में कामयाब हो सकते हैं। बीच-बीच में परिवार की तरफ से तनाव भी बढ़ सकता है और माता जी से आपकी कहासुनी भी हो सकती हैं, इसके बावजूद भी आपका पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। तीसरे भाव के स्वामी मंगल चतुर्थ भाव में और 5 तारीख को पंचम भाव में चले जाएंगे, इससे भाई और बहनों का प्रेम आपके साथ बना रहेगा, उनके सहयोग से आपके कामों में सफलता मिलेगी। महीने के उत्तरार्ध में आमदनी बढ़ाने में भी उनका सहयोग मिल सकता है। इस महीने आपके पिताजी आपको कुछ धन प्रदान कर सकते हैं अथवा कोई ऐसा साधन प्रदान कर सकते हैं, जिससे आपके सुख में बढ़ोतरी हो सके।

उपाय

शुक्ल पक्ष के मंगलवार को किसी मंदिर में लाल रंग का तिकोना झंडा लगाएं।
बृहस्पतिवार के दिन केले के वृक्ष की पूजा करें।
शनिवार के दिन चींटियों को आटा और चीनी का कसार डालें।
मछलियों को भी खाने के लिए दाना डालें।